Zara Zara Behekta Hai Lyrics – Rehnaa Hai Tere Dil Mein

(Zara Zara Behekta Hai Lyrics in English)


Zara Zara Behekta Hai Mehekta Hain

Aaj To Mera Tan Badan

Main Pyaasi Hoon Mujhe

Bhar Le Apni Baahon Mein

Zara Zara Behekta Hain Mehekta Hain

Aaj To Mera Tan Badan

Main Pyaasi Hoon Mujhe

Bhar Le Apni Baahon Mein

Hai Meri Kasam Tujhko

Sanam Door Kahin Na Jaa

Yeh Doori Kehti Hain Paas Mere Aaja Re

Yuhi Baras Baras Kaali Ghata Barse

Hum Yaar Bheeg Jaaye

Is Chaahat Ki Baarish Mein

Meri Khuyli Khuli Lato Ko Suljaaye

Tu Apni Ungliyon Se Main

To Hoon Isi Khwaayish Mein

Sardi Ki Raaton Mein Hum

Soye Rahe Ek Chaadar Mein

Hum Dono Tanha Ho Na

Koi Bhi Rahe Is Ghar Mein

Zara Zara Behekta Hain Mehekta Hain

Aaj To Mera Tan Badan

Main Pyaasi Hoon Mujhe

Bhar Le Apni Baahon Mein

Aaja Re Aa Re

Tadpaye Mujhe Teri Sabhi Baatein

Ek Baar Ay Deewani

Jhootha Hi Sahi Pyaar To Kar

Main Bhooli Nahin Haseen Mulakaatein

Bechain Karke Mujhko

Mujhse Yun Na Pher Nazar

Roothega Na Mujhse

Mere Saathiyan Yeh Vaada Kar

Tere Bina Mushkil Hain

Jeena Mera Mere Dil Mein

Zara Zara Behekta Hain Mehekta Hain

Aaj To Mera Tan Badan

Main Pyaasi Hoon Mujhe

Bhar Le Apni Baahon Mein

Hai Meri Kasam Tujhko

Sanam Door Kahin Na Jaa

Yeh Doori Kehti Hain Paas Mere Aaja Re

Aaja Re Aaja Re Aaja Re


(Zara Zara Behekta Hai Lyrics in Hindi)


ज़रा ज़रा बहकता है महकता है
आज तो मेरा तन बदन
मैं प्यासी हूँ
मुझे भर ले अपनी बाहों में
ज़रा ज़रा बहकता है महकता है
आज तो मेरा तन बदन
मैं प्यासी हूँ
मुझे भर ले अपनी बाहों में
है मेरी कसम तुझको सनम
दूर कहीं ना जा
ये दूरी कहती है
पास मेरे आजा रे

यूँ ही बरस बरस काली घटा बरसे
हम यार भीग जाएँ इस चाहत की बारिश में
मेरी खुली खुली लटों को सुलझाए
तू अपनी उँगलियों से
मैं तो हूँ इसी ख्वाहिश में
सर्दी की रातों में
हम सोये रहें एक चादर में
हम दोनों तन्हाँ हो
ना कोई भी रहे इस घर में
ज़रा ज़रा बहकता है महकता है
आज तो मेरा तन बदन
मैं प्यासी हूँ
मुझे भर ले अपनी बाहों में

आजा रे आ रे
लबै ले ही एई एई ये
लबै ले ही एई एई ही एई एई ये

तड़पाएँ मुझे तेरी सभी बातें
एक बार ऐ दीवाने झूठा ही सही प्यार तो कर
मैं भूली नहीं हसीं मुलाकातें
बैचेन कर के मुझको
मुझसे यूँ ना फेर नज़र
रूठेगा ना मुझसे
मेरे साथिया ये वादा कर
तेरे बिना मुश्किल है
जीना मेरा मेरे दिलबर
ज़रा ज़रा बहकता है
महकता है
आज तो मेरा तन बदन
मैं प्यासी हूँ
मुझे भर ले अपनी बाहों में
है मेरी कसम तुझको सनम
दूर कहीं ना जा
ये दूरी कहती है
पास मेरे आजा रे
आजा रे
आजा रे
आजा रे

Related Posts