Zaalima Lyrics

Zalima Lyrics in English

Jo teri khatir tadpe pehle se hi
Kya usey tadpana o zaalima, o zaalima
Jo tere ishq mein behka pehle se hi
Kya usey behkana o zaalima, o zaalima.

Aankhen marhaba, baatein marhaba
Main sau martaba deewana huaa
Mera na raha jab se dil mera
Tere husn ka nishana hua.

Jiski har dhadkan tu ho
Aise dil ko kya dhadkana
O zaalima, o zalima..

Saanson mein teri nazdeeqiyon ka
Itrr tu ghol de, ghol de…

Main hi kyun ishq zaahir karun
Tu bhi kabhi bol de, bol de..

Le ke jaan hi jaayega meri
Qaatil har tera bahaana hua.

Tujhse hi shuru
Tujhpe hi khatam
Mere pyaar ka fasaana hua.

Tu shamma hai toh yaad rakhna
Main bhi hoon parwaana
O zaalima, o zaalima..

Deedaar tera milne ke baad hi
Chhoote meri angdaayi
Tu hi bata de kyun zaalima

Zalima Lyrics in Hindi

जो तेरी खातिर तड़पे पहले से ही
क्या उसे तडपना ो ज़ालिम
जो तेरे इश्क़ में बहका पहले से ही
क्या उसे बहकना ो ज़ालिम

जो तेरी खातिर तड़पे पहले से ही
क्या उसे तडपना ो ज़ालिम
जो तेरे इश्क़ में बहका पहले से ही
क्या उसे बहकना ो ज़ालिम

आँखें मरहबा
मैं सौ मरतबा दीवाना हुआ
मेरा न रहा जब से दिल मेरा
तेरे हुस्न का निशाना हुआ

जिसकी हर धड़कन तू हो
ऐसे दिल को क्या धडकना
ो ज़ालिम

जो तेरी खातिर तड़पे पहले से ही
क्या उसे तडपना ो ज़ालिम

साँसों में तेरी नज़दीकियों का
िटरर तू घोल दे
मैं ही क्यों इश्क़ ज़ाहिर करूं
तू भी कभी बोल दे

साँसों में तेरी नज़दीकियों का
िटरर तू घोल दे
मैं ही क्यों इश्क़ ज़ाहिर करूं
तू भी कभी बोल दे

लेके जान ही जाएगा मेरी
क़ातिल हर तेरा बहाना हुआ

तुझसे ही शुरू
तुझपे ही खत्म
मेरे प्यार का फ़साना हुआ

तू शम्मा है तोह याद रखना
मैं भी हूँ परवाना
ो ज़ालिम

जो तेरी खातिर तड़पे पहले से ही
क्या उसे तडपना ो ज़ालिम

दीदार तेरा मिलने के बाद ही
छूटे मेरी अंगडाई
तू ही बता दे क्यूँ जालिमा मैं कहलायी

क्यों इस तरह से दुनिया जहान में
करता है मेरी रुसवाई
तेरा क़ुसूर और ज़ालिम मैं कहलायी

दीदार तेरा मिलने के बाद ही
छूटे मेरी अंगडाई
तू ही बता दे क्यूँ जालिमा मैं कहलायी
तू ही बता दे क्यूँ जालिमा मैं कहलायी..

Related Posts