Tujhme Rab Dikhta Hai Lyrics

Tujhme Rab Dikhta Hai Lyrics in English

Tu hi toh jannat meri
Tu hi mera junoon
Tu hi to mannat meri
Tu hi rooh ka sakoon

Tu hi aakhion ki thandak
Tu hi dil ki hai dastak
Aur kuch na jaanu main
Bas itna hi jaanu

Tujh mein rab dikhta hai
Yaara me kya karu
Tujh main rab dikhta hai
Yaara me kya karu

Sajdhe sar jhukta hai
Yaara main kya karu
Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu

(Music)

Kaisi hai yeh doori
Kaisi majboori
Meine najron se tujhe
Choo liya

Oh ho ho…
Kabhi teri khusboo
Kabhi teri baatein
Bin mange yeh jahan pa liya

Tu hi dil ki hai raunak
Tu hi janmo ki daulat
Aur kuch na jaanu
Bas itna hi jaanu

Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu
Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu

Sajdhe sar jhukta hai
Yaara mein kya karu
Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu

(Vasdi vasdi vasdi
Dil di dil vich vasdi
Nasdi nasdi nasdi
Dil ro ve te nasdi

Rab ne…. Bana di….. Jodi….. Haaye….

Vasdi vasdi vasdi
Dil di dil vich vasdi
Nasdi nasdi nasdi
Dil ro ve te nasdi)

Cham cham aaye, mujhe tarsaye
Tera saaya ched ke chumta
Oh ho ho…
tu jo muskaye
Tu jo sharmaye
Jaise mera hai khuda jhumta

Tu hi meri hai barkat
Tu hi meri ibadat
Aur kuch na jaanu
Bas itna hi jaanu

Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu
Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu

Sajdhe sar jhukta hai
Yaara mein kya karu
Tujh mein rab dikhta hai
Yaara main kya karu

(Vasdi vasdi vasdi
Dil di dil vich vasdi
Nasdi nasdi nasdi,
Dil ro ve te nasdi)

Rab ne…. Bana di….. Jodi….. Haaye….

Tujhme Rab Dikhta Hai Lyrics in Hindi

तू ही तो जन्नत मेरी
तू ही मेरा जूनून
तू ही तो मन्नत मेरी
तू ही रूह का सुकून

तू ही अंखियों की ठंडक
तू ही दिल की है दस्तक
और कुछ ना जानूं मैं
बस इतना ही जानूं

तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

सजदे सर झुकता है
यारा मैं क्या करुँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

(संगीत )

कैसी है ये दूरी
कैसी मजबूरी
मैंने नज़रों से तुझे
छू लिया

हो…हो…हो…
कभी तेरी खुशबू
कभी तेरी बातें
बिन मांगे ये जहाँ पा लिया

तू ही दिल की है रौनक
तू ही जन्मों की दौलत
और कुछ ना जानूं
बस इतना ही जानूं

तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

सजदे सर झुकता है
यारा मैं क्या करुँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

(वसदी वसदी वसदी
दिल दी दिल विच वसदी
नसदी नसदी नसदी
दिल रो वे ते नसदी

रब ने….बना दी …जोड़ी…..हाये!……

वसदी वसदी वसदी
दिल दी दिल विच वसदी
नसदी नसदी नसदी
दिल रो वे थे नसदी )

छम छम आयें, मुझे तरसाए
तेरा साया छेड़ के चूमता
हो हो हो…
तू जो मुस्काए
तू जो शरमाये
जैसे मेरा है ख़ुदा झूमता

तू ही मेरी है बरकत
तू ही मेरी इबादत
और कुछ ना जानूं
बस इतना ही जानूं

तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

सजदे सर झुकता है
यारा मैं क्या करुँ
तुझमें रब दिखता है
यारा मैं क्या करूँ

(वसदी वसदी वसदी
दिल दी दिल विच वसदी
नसदी नसदी नसदी
दिल रो वे ते नसदी )

रब ने…

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *