Rim Jhim Ye Sawan Lyrics – Jubin Nautiyal

(Rim Jhim Ye Sawan Lyrics in English)


Rim Jhim Ye Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai
Mausam Mohabbaton Ka
Khud Chal Ke Aaya Hai

Saare Shehar Mein Sirf
Humko Bhigaya Hai
Rim Jhim Ye Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai

Pehli Mohabbat Hai
Aur Pehli Yeh Baarish Hai
Bhar Lo Baahon Mein
Aasaman Ki Nawazish Hai

Kitna Khush Hai
Dekho Na Yeh Aasmaan
Hai Khushnaseebi Meri
Saare Zamane Mein

Jo Humsafar Tune
Mujhko Banaya Hai
Rim Jhim Ye Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai

Raahein Ab Saari Jaake
Tujhse Mil Jaati Hain
Haste Haste Aankhon Se
Boondein Gir Jaati Hain

Tu Jo Aaya Badli Mausam Ki Hawa
Jitna Bechaini Mein Tha
Pehle Yeh Safar Mera

Utna Sukoon Maine
Tujhme Ab Paya Hai
Rim Jhim Yeh Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai

Rim Jhim Yeh Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai
Mausam Mohabbaton Ka
Khud Chal Ke Aaya Hai

Saare Shehar Mein Sirf
Humko Bhigaya Hai
Rim Jhim Ye Sawan
Phir Barsaatein Le Aaya Hai


(Rim Jhim Ye Sawan Lyrics In Hindi)


रिम झिम ये सावन
फिर बरसातें ले आया है
मौसम मोहब्बतों का
खुद चलके आया है

सारे शहर में सिर्फ़
हमको भिगाया है
रिम झिम ये सावन फ़िर
फिर बरसातें ले आया है

पहली मोहब्बत है और
पहली ये बारिश है
भर लो बाहों में
आसमां की नावाजीश है

कितना खुश है
देखो न ये आसमान
है खुशनसीबी मेरी
सारे ज़माने में

जो हमसफ़र तूने
मुझको बनाया है
रिम झिम ये सावन फ़िर
फिर बरसातें ले आया है

राहें अब सारी जाके
तुझसे मिल जाती हैं
हस्ते हस्ते आँखों से
बूंदे गिर जाती हैं

तु जो आया बदली मौसम की हवा
जितनी बेचैनी में था
पहले ये सफ़र मेरा

उतना सुकून हां मैनें
तुझमें अब पाया है
रिम झिम ये सावन फ़िर
फिर बरसातें ले आया है

रिम झिम ये सावन फ़िर
बरसातें ले आया है
मौसम मोहब्बतों का
खुद चलके आया है

सारे शहर में सिर्फ़
हमको भिगाया है
रिम झिम ये सावन फ़िर
फिर बरसातें ले आया है

Related Posts