Humnava Mere Lyrics

Humnava Mere Lyrics in English

SHAYARI- (Barso ho gaye bichde
Ab saath nahi ho tum
Phir aisa kyun lagta hai
Jaha main hoon wahi ho tum
Kya karoon main apni un galiyon ka
Kisi ki bhi tasveer banaun
Tumhari ban jaati hai
Ye sirf mera pagalpan hai
Ya tum bhi mere liye pagal thi!)

Ooo… oohh… Ooo… oohh…
Kal rashte mein ghum mil gaya tha
Lag ke galle main ro diya
Jo sirf mera, tha sirf mera
Maine usse kyun kho diya…

Haan wo aankhein jinhe
Main chummta tha bewajah
Pyaar mere liye kyun
Unme baaki na raha…

Ooo… oohh…
Humnava mere tu hai to
Meri sansein chale
Bata de kaise main jiyunga tere bina… (x2)

Ooo… oohh… Ooo… oohh…
Har waqt dil ko sataye
Aisi kami hau tu
Main bhi na janu ye
Ke itna kyun laazmi hai tu

Neendein jaake na lauti
Kitni ratein dhal gayi
Itne taare ginne ki
Un galiyaan bhi jaal gayi

Ooo… oohh…
Humnava mere tu hai to
Meri sansein chale
Bata de kaise main jiyunga tere bina… (x2)

Ooo… oohh… Ooo… oohh…
Tu aakhri aansu oo yaara
Hai aakhri tu ghum
Dil ab kaha hai jo doobara
De de kisi ko hum

Apni shamon mein hissa
Phir kisi ko na diya
Ishq tere bina bhi
Maine tujhse hi kiya

Ooo… oohh…
Humnava mere tu hai to
Meri sansein chale
Bata De Kaise Main Jiyunga Tere Bina…

Ooo…
Fasle na de, main hu aasre tere,
Bata De Kaise Main Jiyunga Tere Bina..

Ooo… oohh… Ooo… oohh…
Aazma mujhe raha kyun,
Aa bhi ja kahi se ab tu,
Kaise main jiyunga tere bina…

Seene mein jo dhadkane hai
Tere naam pe chale hain
Kaise main jiyunga tere bina…

Humnava Mere Lyrics in Hindi

“बरसों हो गये बिछड़े अब साथ नहीं हो तुम फिर ऐसा

क्यूँ लगता है जहाँ मैं हूँ वहीं हो तुम क्या करूँ मैं अपनी

उँगलियों का किसी की भी तस्वीर बनाऊं तुम्हारी बन जाती

है ये सिर्फ मेरा पागलपन है या तुम भी मेरे लिए पागल थी”

ओ.. ओ.. ओ.. कल रास्ते में ग़म मिल गया था लग के गले मैं

रो दिया जो सिर्फ मेरा था सिर्फ मेरा मैंने उसे क्यूँ खो दिया हाँ वो

आँखें जिन्हें मैं चूमता था बेवजह प्यार मेरे लिए क्यूँ उनमें बाकि न

रहा हो हो.. हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले बता दे कैसे मैं जियूँगा

तेरे बिना ओ.. हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले बता दे कैसे मैं जियूँगा

तेरे बिना हर वक़्त दिल को जो सताए ऐसी कमी है तू मैं भी ना जानू ये के

इतना क्यूँ लाज़मी है तू नींदें जा के न लौटी कितनी रातें ढल गयी इतने तारे

गिने के उँगलियाँ भी जल गयी हो.. हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले बता दे

कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना ओ.. हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले बता दे कैसे मैं

जियूँगा तेरे बिना ओ.. ओ.. ओ.. तू आखरी आंसू है यारा है आखरी तू ग़म दिल

अब कहाँ है जो दोबारा दें दें किसी को हम अपनी शामों में हिस्सा फिर किसी को

न दिया इश्क तेरे बिना भी मैंने तुझसे ही किया हो.. हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें

चले बता दे कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना हो.. फासले ना दे मैं हूँ आसरे तेरे बता दे कैसे

मैं जियूँगा तेरे बिना.. आजमा रहा मुझे क्यूँ आ भी जा कहीं से अब तू कैसे मैं जियूँगा

तेरे बिना.. सीने में जो धड़कने हैं तेरे नाम पे चले हैं कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना.. “जबाब

मिल गया मुझे मैं तुम्हारी ज़िन्दगी में कहीं नहीं था फिर भी मैं ही तुम्हारी ज़िन्दगी था

सिर्फ मैं ही तुम्हारे लिए पागल नहीं था तुम भी! हमनवा मेरे तू है तो मेरी सांसें चले बता

दे कैसे मैं जियूँगा तेरे बिना”

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *