abhi na jao chhod kar lyrics

Abhi Na Jao Chhod Kar Lyrics in  English

Abhi na jao chhod kar ke dil abi bhara nahi

Abhi na jao chhod kar ke dil abi bhara nahi

Abhi abhi to aayi ho, abhi abhi to

Abhi abhi to aayi ho, bahar banke chhayi ho

Hawa zara mehak to le, nazar zara behak to le

Yeh shaam dhal to le zara

Yeh shaam dhal to le zara

Yeh dil sambhal to le zara

Main thodi deir jee to loon

Nashe ke ghoont pee to loon

Nashe ke ghoont pee to loon

Abhi to kuchh kaha nahi

Abhi to kuchh sun nahi

Abhi na jao chhod kar ke dil abi bhara nahi

Sitaare jhilmila uthe

Sitaare jhilmila uthe, charag jagmaga uthe

Bas ab na mujhko tokna

Bas ab na mujhko tokna

Na badhke raah rokna

Agar main ruk gayi abhi

To jaa na paaoongi kabhi

Yehi kahoge tum sada ke dil abhi nahi bhara

Jo khatm kisi jagah yeh aisa silsila nahi

Abhi nahi, abhi nahi, nahi nahi nahi nahi

Abhi na jao chhod kar ke dil abi bhara nahi

Adhoori aas, adhoori aas chhod ke

Adhoori pyas chhod ke ao roz yun hi jaaogi

To kis tarah nibhaaogi

Ke zindagi ki raah mein

Jawan dilon ki chaah mein kai makam aayenge

Jo humko aazmaayenge

Bura na maano baat ka, yeh pyar hai gila nahi

Haan yehi kahoge tum sada

Ke dil abhi nahi bhara

Haan dil abhi nahi bhara

Nahi nahi nahi nahi

Abhi Na Jao Chhod Kar Lyrics in Hindi

अभी ना जाओ छोड़कर कर के दिल अभी भरा नहीं अभी

ना जाओ छोड़कर कर के दिल अभी भरा नहीं अभी अभी

तो आई हो, अभी अभी तो अभी अभी तो आई हो बहार बन

के छाई हो हवा ज़रा महक तो ले नजर ज़रा बहक तो ले ये

शाम ढल तो ले ज़रा ये शाम ढल तो ले ज़रा ये दिल संभल तो

ले ज़रा मैं थोड़ी देर जी तो लूँ नशे के घूँट पी तो लूँ नशे के घूँट

पी तो लूँ अभी तो कुछ कहा नहीं अभी तो कुछ सूना नहीं अभी

ना जाओ छोड़कर कर के दिल अभी भरा नहीं सितारे झिलमिला

उठे सितारे झिलमिला उठे चराग जगमगा उठे बस अब ना मुझ

को टोकना बस अब ना मुझ को टोकना ना बढ़ के राह रोकना

अगर मैं रुक गयी अभी तो जा न पाऊँगी कभी यही कहोगे तुम

सदा के दिल अभी नहीं भरा जो ख़त्म हो किसी जगह ये ऐसा सिलसिला

नहीं अभी नहीं अभी नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं अभी ना जाओ छोड़कर कर

की दिल अभी भरा नहीं अधूरी आस छोड़ के अधूरी प्यास छोड़ के जो रोज़

यूँ ही जाओगी तो किस तरह निभाओगी के ज़िन्दगी की राह में जवाँ दिलों की

चाह में कई मकाम आयेंगे जो हम को आजमाएंगे बुरा ना मानों बात का ये प्यार

है गिला नहीं यही कहोगे तुम सदा के दिल अभी भरा नहीं हाँ दिल अभी भरा नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं

 

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *